The news is by your side.

रामनवमी मेला में श्रद्धालुओं को न हो कोई परेशानी

-मण्डलायुक्त ने सभी विभागों के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

अयोध्या। मण्डलायुक्त गौरव दयाल की अध्यक्षता में रामनवमी मेले की तैयारी की आयुक्त सभागार में समीक्षा की गयी। मण्डलायुक्त ने कहा कि विशेष रूप से नगर निगम, पीडब्लूडी, जलनिगम और बिजली विभाग के अधिकारी, अपर जिलाधिकारी नगर एवं पुलिस अधीक्षक नगर तथा अन्य अधिकारियों के साथ तत्काल मेले क्षेत्र का भ्रमण कर स्थिति के आकलन कर लें कि कहां कहां बेरीकेटिंग और अन्य सुविधाओं की व्यवस्था किया जाना है। मण्डलायुक्त ने विशेष रूप से पीडब्लूडी एवं जलनिगम के अधिकारियों को निर्देश दिया कि भक्ति पथ, जन्मभूमि पथ, रामपथ आदि के मार्गो को श्रद्वालुओं के आगमन को देखते हुये विशेष साफ सफाई व्यवस्था किया जाय तथा उनके पेयजल, ट्ायलेट आदि के व्यवस्था पर भी नगर निगम आवश्यक कार्यवाही करें एवं चिकित्सा व्यवस्था को बेहतर किया जाय।

Advertisements

मण्डलायुक्त ने कहा कि बाहर से आने वाले तीर्थार्थियों के लिए बस स्टैण्ड आदि की व्यवस्था सम्बंधित मार्गो के आसपास किया जाय तथा इसके फ्लेक्स आदि की व्यवस्था किया जाय जिससे कि मेन बिन्दुओं की जानकारी मिल सकें कि तीर्थयात्री को कहां से उतरकर कहां आना है और इसका व्यापक प्रचार प्रसार ब्रीफ किया जाय। मण्डलायुक्त ने सूचना विभाग को प्रचूर मात्रा में एलईडी मोबाइल वाहन लगाने का निर्देश दिया जिससे कि श्रद्वालु कार्यक्रमों सजीव प्रसारण देख सकें।

रामनवमी का सजीव प्रसारण दूरदर्शन, आकाशवाणी द्वारा रामलला मंदिर एवं कनक भवन से किया जायेगा। पुलिस महानिरीक्षक श्री प्रवीण कुमार ने सुरक्षा बिन्दुओं तथा भीड़ के आकलन करने पर जोर दिया तथा कहा कि यह बेहतर व्यवस्था किया जाय तथा पब्लिक एड्रेस सिस्टम एवं कन्ट्रोल रूम के नम्बर को ज्यादा से ज्यादा प्रसारित किया जाय जिससे कि आम श्रद्वालु को किसी प्रकार से कोई दिक्कत न हों तथा इस कार्य में लगे हुये विभिन्न विभागों के अधिकारी, मजिस्ट्रेटों एवं पुलिस अधिकारी के साथ समन्वय बनाकर कार्य करें। रामनवमी का मुख्य पर्व 29, 30 मार्च को हो रहा है लेकिन नवरात्र 22 मार्च से शुरू हो रही है विशेष साफ सफाई एवं मेडिकल व्यवस्था को बेहतर किया जाय। इस बैठक में जिलाधिकारी श्री नितीश कुमार ने बताया कि मेले में बेहतर व्यवस्था हेतु विद्युत, जलनिगम, नगर निगम, पीडब्लूडी को निर्देश दिया गया है तथा 14 कोसी एवं पंचकोसी की तरह पुलिस एवं मजिस्ट्रेट अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण करें और वास्तविक आकलन के अनुसार बेरीकेटिंग आदि किया जाय।

इसे भी पढ़े  मेला परिसर में साफ सफाई की हो बेहतर व्यवस्था : नितीश कुमार

जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि रामजन्मभूमि के स्थान पर या मुख्य स्थान पर जाने वाले मार्गो को बेहतर साफ सफाई व्यवस्था करते हुये आवागमन के लिए बेहतर कर लिया जाय जिससे कि श्रद्वालुओं को आने जाने में दिक्कत न हों। इस बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक/एसएसपी श्री मुनिराज जी ने बताया कि भीड़ को नियंत्रण करने के लिए और सुरक्षा को ध्यान में रखकर नयाघाट स्नान के बाद नागेश्वर नाथ मंदिर आने से श्रद्वालुओं के भीड़ के आकलन के लिए राम की पैड़ी पर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी तथा पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बल लगाये जा रहे है तथा पूरे मेला क्षेत्र को 6 जोन में बांटा गया है तथा अलग-अलग पब्लिक एड्रेस सिस्टम की आवश्यकतानुसार व्यवस्था की गयी। बैठक में सरयू नहर खण्ड, सिंचाई खण्ड, नगर निगम अयोध्या/अध्यक्ष शुलभ इण्टरनेशनल, प्रभागीय वनाधिकारी, वन प्रभाग/नगर आयुक्त नगर निगम/मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, विद्युत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, मुख्य खाद्य सुरक्ष़्ा अधिकारी, पी0एम0ना0 कार्य इकाई/अधि0अभि0 जलकल नगर निगम, प्रान्तीय खण्ड/निर्माण खण्ड-3 लो0नि0विभाग, आर0एम0 रोडवेज, रेलवे विभाग, अधीक्षक राजकीय उद्यान, कैण्ट बोर्ड, अधिशाषी अभियन्ता विकास प्राधिकरण, साकेत डेयरी, उप निदेशक पर्यटन, जिला युवा कल्याण अधिकारी, सूचना विभाग, पुलिस विभाग/अग्नि शमन आदि विभागों की समीक्षा की गयी तथा उनसे कहा गया कि अपने-अपने विभागों के कार्यो को समय से पूरा करें।

मण्डलायुक्त गौरव दयाल एवं जिलाधिकारी नितीश कुमार द्वारा आगामी चैत्र रामनवमी मेला-2023 को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु तैनात किये गये विभिन्न विभागों यथा-राजस्व विभाग, विकास विभाग, शिक्षा, नगर निगम, जलनिगम सहित अन्य विभागों के अस्थायी मजिस्ट्रेटों एवं राजपत्रित पुलिस अधिकारियों के साथ तैयारियों की समीक्षा बैठक आयुक्त सभागार में आहूत की गयी। उन्होंने सम्बोधित करते हुये कहा कि सभी अधिकारीगण अपने-अपने ड्युटी स्थल का पूर्व से निरीक्षण कर नियत तिथि तक समय से पूर्व उपस्थित होकर सम्बंधित अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर शांति व्यवस्था एवं श्रद्वालुओं को समुचित व्यवस्था उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आगामी चैत्र रामनवमी मेले में भारी संख्या में श्रद्वालुओं के आने की संभावना है जिसके लिए पहले से सभी तैयारियां कर ली जाय और श्रद्वालुओं को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाय।

इसे भी पढ़े  पीएम मोदी का विजन, देश को एक आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाने को मिशन के तौर पर करेंगे कार्य : पंकज सिंह

मण्डलायुक्त ने कहा कि सरयू नदी घाट पर श्रद्वालुओं के स्नान के लिए समस्त व्यवस्थायें सहित मेला क्षेत्र में लाइटिंग आदि से सुन्दर सजावट के साथ सुरक्षा के लिए जल बेरीकेटिंग आदि की व्यवस्था पहले से सुनिश्चित कर ली जाय तथा राम की पैड़ी पर बेहतर साफ-सफाई व्यवस्था के साथ पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाय। उन्होंने परिवहन विभाग को मेले के दौरान अतिरिक्त बसों की व्यवस्था/अस्थायी बस स्टैंड की व्यवस्था, अग्निशमन विभाग को अग्निशमन एवं वाटर कैनन की व्यवस्था, चिकित्सा विभाग को विभिन्न स्थानां पर मेडिकल कैम्प, एम्बुलेंस एवं दवाईयों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। केन्द्रीय मेला कक्ष जो अन्तर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय अयोध्या में स्थित है, का दूरभाष नम्बर (05278) 232043, 232044, 232046, 232047/9120989195 पर किसी भी प्रकार की समस्या होने पर जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

बैठक में अपर जिलाधिकारी नगर सलिल कुमार पटेल द्वारा जानकारी दी गयी तथा इस बैठक में पुलिस अधीक्षक नगर, क्षेत्राधिकारी गण, मजिस्ट्रेट तथा सम्बंधित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित थे। मण्डलायुक्त ने अन्त में सभी से अपनी पूरी क्षमता के अनुसार अपने अपने विभागों के कार्यो को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिये जिससे कि आम श्रद्वालुओं को कोई दिक्कत न हों।

 

Advertisements

Comments are closed.