वैश्य समाज के बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक करना प्राथमिकता: नटवर गोयल

0

वैश्य प्रतिभा सम्मान समारोह का हुआ आयोजन

फैजाबाद। वैश्य समाज के बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक बनाना हमारी पहली प्राथमिकता है। उक्त उद्गार व्यक्त करते हुये अखिल भारतीय वैश्य महासम्मलेन के प्रदेश अध्यक्ष नटवर गोयल ने स्थानीय गणपति गेस्ट हाउस नाका मुजफ्फरा पर अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा आयोजित ‘‘वैश्य प्रतिभा सम्मान समारोह-2018’’ में सम्मिलित प्रतिभागियों तथा समाज के व्यक्तियों को सम्बोधित करते हुये कही। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज इन बच्चों के माध्यम से अपने कल को सवारे उन्हें शिक्षा के प्रति जागरूक करें और शिक्षा के माध्यम से समाज में अपना एक स्थान बनावें यही हमारा आपका प्रयास होना चाहिए। समारोह को सम्बोधित करते हुये संगठन के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष व जनपद के मुख्य संरक्षक भागीरथ पचेरीवाला ने कहा कि वैश्य समाज अब संगठित होकर समाज के शिक्षा जैसे क्षेत्र में अपने पिछड़ेपन को दूर करे। संगठन के जिला अध्यक्ष मनोज जायसवाल ने कहा कि अभी संगठन का ये प्रयास मात्र है, संगठन अभी समाज के तमाम क्षेत्रों में इस तरह के आयोजन करके अपनी जोरदार उपस्थिति दर्ज करायेगा। इन बच्चों का सम्मान करके आज संगठन के साथ ही साथ सम्पूर्ण वैश्य समाज अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा है। सम्मान समारोह में लगभग 67 मेधावी छात्र-छात्राओं का सम्मान अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा किया गया। जिसमें यू0पी0बोर्ड इण्टरमीडिएट की छात्रा अनुज्या सोनी 93.60 प्रतिशत, यू0पी0बोर्ड हाईस्कूल के सौरभ कसौंधन 85.83 प्रतिशत, सी0बी0एस0ई0 इण्टरमीडिएट शेजल अग्रवाल 96.2 प्रतिशत सहित 67 मेधावी छात्र-छात्राओं को उनके माता-पिता सहित सम्मानित किया गया। उन्हें प्रमाणपत्र तथा स्मृतिचिन्ह प्रदान करते हुये बच्चों एवं माता पिता को संगठन के सदस्यों द्वारा माल्यार्पण कर स्वागत किया गया।
वहीं संगठन के जिला जिला उपाध्यक्ष एवं कार्यक्रम संयोजक केशव बिगुलर ‘एडवोकेट’ ने कहा कि वैश्य समाज के बच्चों को प्रोत्साहन की ही आवश्यकता है वैश्य समाज के काफी प्रतिभावान है उन्हें केवल उचित मार्गदर्शन की आवश्यकता है। संगठन के जिला महामंत्री देवेन्द्र अग्रहरि गुप्ता ने कहा कि वैश्य समाज अब शिक्षा के क्षेत्र में अपनी पहचान बनाते हुए अपनी मजबूत उपस्थिति समाज में दर्ज करा रहा है। जो हमारे वैश्य समाज के लिए अत्यन्त गौरव का विषय है। संगठन के जिला मीडिया प्रभारी राम कृष्ण गुप्ता के अनुसार वैश्य प्रतिभा सम्मान समारोह का कुशल संचालन करते हुये कार्यक्रम संयोजक ने कहा कि सम्मान समारोह में रजत कसौंधन जो शारीरिक रूप से दिव्यांग है जिसने मात्र दो उंगलियों के सहारे यू0पी0बोर्ड के इण्टरमीडिएट की परीक्षा दी जिसमें 74.80 प्रतिशत से उत्तीर्ण किया। जिसे संगठन ने विशिष्ट पुरस्कार हेतु चुना और उसे पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम मंे अनुज्या सोनी के माता संगीता सोनी, पिता भोलानाथ सोनी के सम्मान तथा रजत कसौंधन कसौंधन के सम्मान के समय पूरा समाज अपने स्थान से खड़े होकर करतल ध्वनि से सम्मान व स्वागत किया।  सम्मान समारोह के प्रारम्भ मंे मुख्य अतिथि सहित संगठन के जिला संरक्षकगण प्रेम शंकर मोदनवाल, राजेन्द्र गुप्ता, डाॅ0 विष्णु गुप्ता, ओम प्रकाश जायसवाल, राम नरेश गुप्त पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत प्रतिनिधि, पूर्व पालिका अध्यक्ष रूदौली अशोक कसौंधन, पूर्व पालिका अध्यक्ष अयोध्या राधेश्याम गुप्ता आदि द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलन एवं पूजन अर्चन किया गया।
वैश्य प्रतिभा सम्मन समारोह के दौरान अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन की महिला सभा जिलाध्यक्ष के पद पर कु0 शोभा गुप्ता के नाम की घोषणा प्रदेश अध्यक्ष ने की। उसके बाद समारोह में जिन्होने अपने मेघा के बल पर अपनी ऊचाईयों को छुआ उसमें बेसिक शिक्षा विभाग में तैनात शिखा पी0डब्लू0डी0 में तैनात नवनीत कुमार इण्टरनेशनल कबड्डी खिलाड़ी मुदित राघव को भी विशेष तौर से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में जिला कोषाध्यक्ष गोविन्द अग्रवाल, जिला उपाध्यक्षगण वैश्य राकेश जायसवाल, ध्रुव गुप्ता, राम बाबू कसौधन, दामोदर दास अग्रवाल, जिला मंत्रीगण पवन गुप्ता, विजय कुमार कसौधन, प्रदीप गुप्ता (प्रधान), जिला संगठन मंत्री बजरंगी साहू, अरूण अग्रहरि, अरविन्द गुप्ता, अशोक अग्रहरि, जिला संयुक्त मंत्री ओम प्रकाश भोजवाल, डाॅ0 अखिलेश वैश्य, राजेश गुप्ता ‘‘कमल’’, मनीष देव गुप्ता, जिला सोशल मीडिया प्रभारी पंकज अग्रहरि, जिला कार्यालय प्रभारी नित्यानंद गुप्ता तथा जिला कार्यसमिति के अवधेश अग्रहरि, नीरज अग्रवाल, श्याम किशोर जायसवाल, प्रताप जायसवाल, शत्रुघ्न लाल गुप्ता, डा0 अशोक जायसवाल, राजेश कसौंधन, अजय मद्वेशिया, पवन गुप्ता, विकास अग्रहरि, भगौती प्रसाद दयालु, अशोक गुप्ता, विष्णु अग्रहरी, राजेश अग्रहरी, बैजनाथ वैश्य, आशीष जायसवाल, दिलीप अग्रहरी, श्रीमती रतना जायसवाल, श्रीमती कंचन जायसवाल, नीलम अग्रहरी, शिवानी अग्रहरी, रोहिताश्वचन्द्र राजू आदि सम्मिलित रहे।

इसे भी पढ़े  फिल्मी कलाकारों की रामलीला के छठवें दिन बालि वध, रावण सीता संवाद और लंका दहन का हुआ मंचन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More