The news is by your side.

राजा महेन्द्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय  के कार्यो को समयबद्ध करें पूरा : डा. दिनेश शर्मा

-डिप्टी सीएम  ने राजा महेन्द्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय  के कार्यो को शीघ्र प्रारंभ कराने के दिए  निर्देश ।

-स्कूलों, विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में कोविड प्रोटोकाल का हो पूरी तरह से पालन

अलीगढ /  लखनऊ। उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने अलीगढ में प्रस्तावित  राजा महेन्द्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय  के कार्यो को शीघ्र प्रारंभ कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अतरौली, अलीगढ़ में राजकीय महाविद्यालय सहित अलीगढ़ में निर्माणाधीन सभी विद्यालयों एवं महाविद्यालय का कार्य शीघ्र संपादित करने का निर्देश देते हुए अलीगढ में उच्च शिक्षा , माध्यमिक शिक्षा के अधिकारियों  तथा रजिस्ट्रार राजा महेन्द्र प्रताप विश्वविद्यालय  के साथ बैठक में  उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के संबद्ध महाविद्यालयों में शीघ्र शिक्षण कार्य प्रारंभ करना सरकार की प्राथमिकता में हैं।

Advertisements

सरकार उच्च शिक्षा के प्रसार के लिए कटिबद्ध है। विश्वविद्यालय के आरंभ होने से निकट वर्ती क्षेत्र के लोगों को शिक्षा के लिए दूर नहीं जाना पडेगा। नई शिक्षा नीति के अनुरूप इन विश्वविद्यालयों में व्यव्स्थाएं की जा रही है। गुणवत्तायुक्त,रोजगारपरक उच्च शिक्षा देकर राष्ट्र निर्माण के लिए युवाओं को तैयार करके की दिशा में सरकार प्रयासरत है। नए शिक्षा के केन्द्र इस दिशा में अहम कडी साबित होगें।   इसके लिए भूमि के साथ ही करीब 100 करोड़ रुपए के प्रारंभिक किश्त/बजट का आवंटन किया जा चुका है। इसके साथ ही विश्वविद्यालय के लिए पदो का सृजन भी किया जा चुका है।

विश्वविद्यालय के कार्यों को जल्द प्रारंभ कराने का निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के शुभारंभ पर शीघ्र कार्यक्रम आयोजित  किया जाए। इसके लिए अभी से तैयारी  आरंभ कर दी जाए।  विश्वविद्यालय के  निर्माण स्थल की दिशा बताने वाले संकेतिक बोर्ड भी शीघ्र ही लगाए जाने चाहिए।  इन सभी कार्यों को समयबद्ध तरह से पूरा किया जाए तथा जिलाधिकारी की अध्यक्षता में लगातार कार्यों की मानीटरिंग भी की जाए। विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए अधिसूचना जारी की जा चुकी है। इसके लिए सरकार ने 92.27 एकड जमीन भी उपलब्ध करा दी है।  बैठक में उपमुख्यमंत्री ने  कहा कि राजकीय हाईस्कूल कठेरा तथा राजकीय इंटर कालेज बरौली  के अवशेष निर्माण कार्यों  को शीघ्र पूरा कर शिक्षण कार्य प्रारंभ  कराया जाए। डा शर्मा ने  कहा कि स्कूलों में भौतिक शिक्षण कार्य प्रारंभ हो चुका हैं। कोविड अभी समाप्त नहीं हुआ है इसलिए पूरी सतर्कता बरती जानी चाहिए।

स्कूलों में बच्चों को  कोविड से सुरक्षित रखने के लिए प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन कराया जाए। सेनेटाइजर मास्क और दो गज की दूरी ही सुरक्षा का मंत्र है। इसका पालन कराया जाए। स्कूली शिक्षकों के वैक्सीनेशन को भी तेजी से पूरा किया जाए। इसके लिए आवश्यकतानुसार विशेष कैम्प भी लगाए जाएं। उन्होंने सितंबर माह है आयोजित हाई स्कूल इंटरमीडिएट बोर्ड की परीक्षाओं को नकल विहीन संपादित कराने के लिए की जा रही तैयारी की भी समीक्षा की।  उपमुख्यमंत्री ने अतरौली में पूर्व राज्यपाल व मुख्यमंत्री स्व कल्याण सिंह जी के त्रयोदशी समारोह में शामिल होकर उन्हे श्रद्धासुमन भी अर्पित किए।

Advertisements

Comments are closed.