The news is by your side.

चंद्रशेखर ने समाजवादी नीतियों से नहीं किया समझौता: अशोक

सजपा ने मनाई पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर की जयंती

अयोध्या। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ने कभी समाजवादी नीतियों मूल्यों और आदर्शों से समझौता नहीं किया वे पहले और अकेले समाजवादी नेता हैं जिन्होंने सत्ता के शिखर को छुआ और देश और समाज में समाजवादियों का गौरव बढ़ाया हमें उनसे प्रेरणा लेकर समाजवादी आंदोलन को नए सिरे से संगठित करके समाज में समता मूलक समाजवादी समाज के निर्माण के लिए एकजुट होना पड़ेगा यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी उक्त विचार समाजवादी जनता पार्टी चंद्रशेखर द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर जी की जयंती के अवसर पर बाल साक्षरता केंद्र धारा मार्ग के परिसर में आयोजित जयंती समारोह को संबोधित करते हुए समाजवादी जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव ने व्यक्त किया उन्होंने कहा कि आज देश की राजनीतिक आर्थिक तथा सामाजिक स्थित का चंद्रशेखर जी के विचारों के संदर्भ में विश्लेषण करें तो हम पाते हैं कि परिस्थितियां बद से बदतर होती जा रही हैं लोकतंत्र पर तानाशाही समाजवाद पर पूंजीवाद तथा समाज में सांप्रदायिकता और जातिवादी ताकते हावी होती जा रही हैं समाजवादी भी उक्त स्थितियों के खिलाफ जन संघर्ष और जन आंदोलन का रास्ता छोड़ समझौता वादी होते जा रहे हैं अगर चुनावी राजनीति की बात की जाए तो वर्तमान में देश में लोकसभा चुनाव चल रहा है जनता जहां एक और अपने बुनियादी अधिकारों से वंचित और चिंतित है वहीं बुद्धिजीवी तथा राजनीतिक विचारक लोकतंत्र एवं संवैधानिक संकट तथा राजनीतिक असहिष्णुता आदर्शों एवं मूल्यों तथा गिरते हुए राजनीति का स्तर को लेकर समाज को बार बार आगाह कर रहे हैं दूसरी तरफ सरकारी संवैधानिक संस्थाएं जैसे सीबीआई आयकर चुनाव आयोग आदि और अधिकांश मीडिया संविधान कानून तथा सामाजिक नैतिक मानदंड का पालन करने के बजाय सत्तारूढ़ दल के एजेंट अथवा कठपुतली की भूमिका अदा करती हुई दिखलाई पड़ रही है और अपने भेदभाव पक्षपात तथा अन्याय पूर्ण आचरण से देश के लोकतंत्र को ही समाप्त करने पर उतारू है ऐसे में चंद्रशेखर जी के जन्म दिवस पर उन्हें स्मरण करते हुए हमें तथा उनके अनुयायियों को वर्तमान चुनौतियों का उसी प्रकार मुकाबला करने की आवश्यकता है जिस प्रकार से स्वर्गीय चंद्रशेखर जी ने 1974 मैं कांग्रेस में रहते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तानाशाही का विरोध किया और लोकनायक जयप्रकाश नारायण के आंदोलन का समर्थन किया था हमें आशा रखनी चाहिए कि चंद्र शेखर जी के समाजवादी अनुयाई आज की विषम राजनीतिक परिस्थिति में अपने अपने राजनीतिक हितों एवं स्वार्थों से ऊपर उठकर लोकशाही तथा जनता के बुनियादी अधिकारों की रक्षा के लिए पूरी ताकत से आगे आएंगे इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार के पी सिंह ने स्वर्गीय चंद्रशेखर जी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए वर्तमान परिस्थिति मैं उनके विचारों मूल्यों और आदर्शों से प्रेरणा लेने की आवश्यकता पर बल दिया और उन्हें समाजवाद का पुरोधा बताया समारोह में मारुति कुमार सिंह श्रीमती अजय रानी शर्मा शिव प्रकाश यादव एडवोकेट श्याम प्रकाश प्रजापति तथा मुकेश यादव विभा शुक्ला सौरभ अग्रवाल अंकिता जेबा ज्योति सेन मीना श्रीवास्तव दिव्या शर्मा जितेंद्र गौड़ पुष्कर नाथ शहनाज आदि ने भी अपने विचार रखे और जन शिक्षक जी के विचारों से प्रेरणा लेने की बात कही समारोह से पूर्व सभी वक्ताओं ने चंद्र शेखर जी के चित्र पर माल्यार्पण कर के श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.