The news is by your side.

सरयू की निर्मलता के लिए कार्ययोजना तैयार करने को किया गया मंथन

-राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के उप निदेशक भी बैठक में हुए शामिल

 

अयोध्या। पवित्र सरयू की निर्मलता के लिए कार्य योजना तैयार करने को मंगलवार को नगर आयुक्त सन्तोष कुमार शर्मा की अध्यक्षता में बैठक हुई। शहरी क्षेत्र में प्रवाहित नदियों के संरक्षण के लिए आयोजित बैठक में राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के उप निदेशक नलिन कुमार श्रीवास्तव, राष्ट्रीय नागर कार्य संस्थान के प्रतिनिधियों एवं सहयोगी विभागों के जिम्मेदारों की सहभागिता रही।

Advertisements

अयोध्या विकास प्राधिकरण, सिंचाई, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, पर्यटन, वन विभाग, छावनी परिषद, उद्योग विभाग, राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साथ हुई इस बैठक में सरयू नदी के संरक्षण के लिए कार्ययोजना तैयार किए जाने पर विस्तृत चर्चा हुई। इसके साथ ही जल स्रोतों, तालाबों/कुण्डों आदि के जीर्णोद्धार करते हुए जल संरक्षण के सम्बन्ध में जानकारी दी गई। साथ ही साथ नदियों को स्वच्छ एवं निर्मल स्वरूप में रखे जाने की कार्रवाई की बाबत विचार विमर्श किया गया। सहयोगी विभागों से भी इस योजना के क्रियान्वयन को अपेक्षित सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया गया।

उल्लेखनीय है कि अर्बन रिवर मैनेजमेन्ट प्लान के अन्तर्गत सरयू नदी को पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चयनित किया गया है। नगर आयुक्त सन्तोष कुमार शर्मा ने बैठक में बताया कि हम सभी नदियों को स्वच्छ रखने एवं संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है। अयोध्या प्राचीन धार्मिक एवं आध्यात्मिक नगरी है। सरयू नदी के प्रति आमजन की प्रगाढ़ आस्था है। इस योजना के अन्तर्गत सरयू नदी को स्वच्छ एवं निर्मल रखने हेतु सहयोगी विभागों के साथ योजना पर कार्यवाही की जायेगी। इस सम्बन्ध में सम्बन्धित विभागों से सहयोग प्राप्त किया जा रहा है।

इसे भी पढ़े  रामलला के दरबार में शीश नवाने पहुंची हरियाणा सरकार

बैठक के दौरान उपाध्यक्ष, अयोध्या विकास प्राधिकरण अश्विनी पाण्डेय, अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार सिंह, मुख्य अभियन्ता राजवीर सिंह, अधिशाषी अभियन्ता अनूप सिंह, अधिशाषी अभियन्ता जल निगम आनन्द कुमार दूबे, अधिशाषी अभियन्ता सिंचाई रजनीश गौतम, प्रभागीय वन अधिकारी केएन. सुधीर, अधिशाषी अभियन्ता अयोध्या विकास प्राधिकरण आलोक कुमार सिंह, सहायक अभियन्ता संजीव यादव, भरत सिंह वर्मा आदि अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.