The news is by your side.

भाकियू कार्यकर्ताओं ने पैदल मार्च निकालकर किया प्रदर्शन

– महंगाई व कृषि कानून को लेकर सौंपा प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन

अयोध्या। संयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता /पदाधिकारी व किसान गोरखपुर -लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 27 पर इकट्ठा होकर ट्रैक्टर , कार तथा दो पहिया वाहनों को खींचते हुए तथा खलिया सिलेंडर सिर पर लेकर साकेत पेट्रोल पंप तक पैदल मार्च किया, साकेत पेट्रोल पंप पर पहुंचकर काला झंडा दिखाकर विरोध प्रदर्शन किया गया और अयोध्या इंस्पेक्टर अशोक कुमार सिंह को प्रधानमंत्री को संबोधित 5 सूत्रीय ज्ञापन सौंपकर पेट्रोलियम पदार्थों में हुई वृद्धि को वापस लेने ,तीनों कृषि कानून को वापस लेने तथा डैच् पर कानून बनाने, गन्ना मूल्य 450/ प्रति कुंतल निर्धारित करने, बिजली दर दिल्ली प्रदेश के बराबर करने की मांग की गई प्रदर्शनकारी सरकार विरोधी नारे लगाते हुए पेट्रोलियम पदार्थों यह दामों में हुई वृद्धि वापस लेने की मांग कर रहे थे।

Advertisements

आंदोलन की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव घनश्याम वर्मा ने कहा कि भारत सरकार द्वारा डीजल ,पेट्रोल ,रसोई गैस के दामों में भारी वृद्धि करके जनता की कमर तोड़ दी गई है जिसको वापस होना जनहित में अति आवश्यक है और तीनों कृषि कानून की वापसी की मांग को लेकर दिल्ली की चारों तरफ लाखों की संख्या में किसान बैठकर गत 8 महीने से धरना दे रहे हैं जिनकी मांग पूरी करते हुए तीनों कृषि कानून निरस्त किया जाए और एमएसपी पर कानून बनाया जाए तथा उत्तर प्रदेश में गन्ना मूल्य 450 रूपये प्रति कुंतल निर्धारित करते हुए बिजली दर दिल्ली प्रदेश के बराबर किया जाए के प्रदर्शन में मंडल अध्यक्ष अभय राज ब्रह्मचारी, जिला अध्यक्ष सूर्य नाथ वर्मा, जिला उपाध्यक्ष अरविंद यादव, भागीरथी वर्मा ,जिला संगठन मंत्री शोभाराम यादव, जिला कोषाध्यक्ष देवी प्रसाद वर्मा, जिला सचिव शंकर पाल पांडे, तहसील अध्यक्ष जगतपाल सिंह, राजेश मिश्रा, संतोष वर्मा, मोहम्मद अली ,जगदीश यादव, राम अवध किसान, राज बहादुर वर्मा ,गुरदीन वर्मा, विकास वर्मा, रामू चंद्र विश्वकर्मा ,राजमणि यादव, लक्ष्मी देवी, सत्रोहन यादव, रामनाथ यादव ,राजेश यादव ,वीरेंद्र यादव आदि सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन में भाग लिया।

Advertisements

Comments are closed.