भाजपा सरकार में दलित, पिछड़े व अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं: अवधेश प्रसाद

0
  • दशरथ लाल पासी मौत प्रकरण को लेकर सपा ने दिया धरना

  • न्याय न मिला तो 2 अक्टूबर से करेंगे सत्याग्रह

  • एसडीएम मिल्कीपुर को सौंपा ज्ञापन

फैजाबाद । दशरथ लाल पासी के परिवार को न्याय नहीं मिला तो 02 अक्टूबर को सिविल लाइन के गांधी मैदान में सत्याग्रह करेंगे। यह एलान समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद ने मिल्कीपुर में आयोजित धरने में किया। उन्होंने कहा कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है। समाज का हर वर्ग तबाह व बर्बाद हो गया है। गत माह थाना-इनायतनगर क्षेत्र के कोटवा गांव निवासी 25 वर्षीय दशरथ लाल पासी की पुलिस अभिरक्षा में मौत हो गयी थी उसी को लेकर मिल्कीपुर तहसील के प्रांगण में धरने का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता मिल्कीपुर विधान सभा अध्यक्ष वेद प्रकाश यादव व संचालन शिवशंकर यादव ने किया। पूर्व मंत्री श्री प्रसाद ने कहा कि यदि मृतक दशरथ लाल पासी के परिवार को न्याय नहीं मिला तो बड़े स्तर पर आन्दोलन होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में रक्षक ही भक्षक बन गये हैं। सपा सरकार आने पर प्रशासन को जवाब देना होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में दलित, पिछड़े व अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने मांग की कि प्रशासन के लोग मृतक दशरथ लाल पासी की लाश को निकालकर परिवार जनों को सौंपे ताकि पूरे विधि विधान के साथ दाह संस्कार किया जा सके। धरने का सम्बोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश के हालात अच्छे नहीं हैं। चारों ओर लूट, हत्या, डकैती व दुष्कर्म का बोलबाला है। प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से फेल हो चुकी है। जिला महासचिव बख्तियार खान ने धरने को सम्बोधित करते हुए कहा कि छुट्टा जानवरों से फसलें नष्ट हो रही हैं। छुट्टा जानवरों के कारण किसानों की मौत हो रही है। प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठा है। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि धरने को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने यह मांग की कि मृतक के परिजनों को 25 लाख रूपये का मुआवजा दिया जाय, दोषी पुलिस वालों पर कार्यवाही की जाय। प्रवक्ता ने बताया कि राज्यपाल को सम्बोधित एक ज्ञापन मिल्कीपुर के उप जिलाधिकारी के0डी0 शर्मा को सौंपा गया। उन्होंने बताया कि धरने में मृतक दशरथ लाल पासी का पूरा परिवार मौजूद था जिसमें पिता रिखी राम पासी, माॅं राजकुमारी पासी, दोनों भाई रमेश पासी, दिनेश पासी व दोनों बहनें मीना व पुष्पा मौजूद थी। धरने को राम बहादुर यादव, इन्द्रपाल यादव, त्रिभुवन प्रजापति, छोटेलाल यादव, डाॅ0 माखनलाल यादव, अवधेश सिंह, महिला सभा की जिलाध्यक्ष सुनीता श्रीवास्तव, मदन यादव, बैजनाथ वैश्य, अभय यादव, विजय बहादुर वर्मा, राजकुमार यादव, शिवकुमार पाल, अमरनाथ निषाद, ब्रह्मानन्द यादव, मूलराज यादव, जगन्नाथ पाल, रामनारायण गुप्ता, आनन्द यादव, अंसार अहमद, शिवकुमार यादव, कमलेश कुमारी यादव, सुनील कोरी, सियाराम पासी, शिव बहादुर दूबे आदि ने सम्बोधित किया।

इसे भी पढ़े  भग्गू पुरवा भूमि विवाद प्रकरण में तीन  गिरफ्तार

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: