The news is by your side.

104.77 करोड की लागत से नया स्वरूप ले रहा अयोध्या रेलवे स्टेशन

रेलवे ने रिपीट किया विकास का खाका

अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की जन्म स्थली सप्तपुरियों में एक पौराणिक एवम् आध्यात्मिक नगरी अयोध्या के रेलवे स्टेशन को रामायण कालीन लुक देने के लिए भूमि पूजन की तैयारियों के बीच रेल महकमे ने फिर से विकास का खाका जारी किया है हालांकि इस बार कुल लागत 80 करोड़ को बढ़ाकर 104.77 करोड किए जाने की बात कही है। हिंदू धर्मावलंबियों और राम भक्तों की आस्था के केंद्र अयोध्या के रेलवे स्टेशन को रामायण कालीन मॉडल के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में वितीय वर्ष 2017-18 में 80 करोड की स्वीकृति दी गयी थी। जिसे वर्तमान में बढाकर 104.77 करोड कर दिया गया है | उत्‍तर एवं उत्‍तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि अयोध्या रेलवे स्टेशन के संरचनात्मक स्वरूप,यात्री सुविधाओं,स्वच्छता, सौंदर्य तथा विभिन्न वांछित सुविधाओं के मद्देनजर नवीनतम एवं आधुनिक यात्री सुविधाओं से सुसस्सजित भवन के निर्माण का कार्य रेलवे की राइट्स उपक्रम से जारी है।प्रथम चरण में प्लेटफॉर्म संख्या 1 व 2/3 में विकास कार्य, वर्तमान सरकुलेटिंग एरिया का विकास व होल्डिंग एरिया का विकास तथा दूसरे चरण में नए स्टेशन भवन का निर्माण व अन्य सुविधाओं की स्थापना का कार्य होना है। जिसके तहत टिकट काउंटर की संख्या में विस्तार,प्रतीक्षालय सुविधा विस्तार,वातानुकूलित 03 विश्रामालय,प्रसाधन सहित 17 बेड वाली पुरुष व 10 बेड की महिला डोरमेट्री,एक अतिरिक्त फुट ओवर ब्रिज,फूड प्लाज़ा,दुकानें,अतिरिक्त शौचालय व अन्य वांछित सुविधाओं को उपलब्ध कराने के लिए कार्य जारी है। साथ ही स्टेशन पर पर्यटक केंद्र,टैक्सी बूथ,शिशु विहार,वीआईपी लाउंज,सभागार तथा विशिष्ट अतिथि गृह का निर्माण कराया जाएगा।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.