कोरोना से बचाव के लिए बस्तियों में चला जागरूकता अभियान

Advertisement

अयोध्या। सामाजिक संस्था अवध पीपुल्स फोरम द्वारा आज शहर में कोरोना वायरस से बचाव के लिए कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को जागरूक करने की मुहीम शुरू की है। इस कार्यक्रम के माध्यम से आज चिथडिया बस्ती, पहाड़गंज, रेलवे कॉलोनी, सहादत अली की छावनियां, दिलकुशा आदि जगहों पर इस वायरस से बचने के उपाय बताए गए एवं साबुन वितरण किया गया। फोरम के संस्थापक आफाक उल्लाह ने बताया कि अधिकतर लोग इस वायरस से डरे हुए हैं और जानकारी के अभाव में क्या करे ये समझ नही पा रहे हैं। फोरम के युवा वालंटियर साथियों ने इस विषय पर समुदाय में लगातार संवाद करने से यह बात निकल कर आई है कि आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवार को इसके लिए जागरूक करना अत्यंत ज़रूरी है। जिससे कि इस वायरस को हर हाल में फैलने से रोका जा सके। इसी को ध्यान में रखते हुए हमने चिथडिया बस्ती के साथ साथ ऐसे स्थानों को चिन्हित किया है। जहां जागरूकता फलाने के लिए विशेष प्रयास करने की आवश्यकता है। लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के तरीकों को आमजन तक पहुँचाया जा सके और वो स्वयं को ही नही बल्कि अपने आस पास के लोगों को भी इसके संक्रमण से बचा सकें।
फोरम के युवा सहयोगी और माई लाइफ मेरे फैसले के फैलो शुभम पांडेय ने जानकारी दी कि फोरम ने कोरोना से लोगों को जागरूक करने के लिए विशेष तौर पर काम कर रहा है। जिसके माध्यम से मात्र 15 मिनट में समुदाय को इसके प्रति सचेत किया जा सकता है। साथ मे कपड़े ओर स्वस्था का बेहतर ध्यान कैसे रखे ओर सफाई करने के तरीको को भी समझाया। अगर ज़रूरी ना हो तो बहार कम ही निकला जाये। जितना संभव हो भीड़ ना इकठ्ठा हो। सरकारी और स्वयंसेवी संगठनों को इस महामारी से बचाव के लिए समुदाय का सहयोग ही बचा सकता है।
युवा सामाजिक कार्यकर्ता सोनकर ने बताया कि लोगों को सचेत रहने की ज़रूरत है और इससे बचाव किया जा सकता है। इस संक्रमण से 80 प्रतिशत लोग ठीक हो जाते हैं और इसका असर बुजुर्गों और पहले से बीमार या कमज़ोर स्वास्थ्य के लोगो पर अधिक होता है। बच्चों में भी इसके संक्रमण से इलाज संभव है इसलिए अफवाह और मानसिक दबाव से बचें। अगर आपको दिखाई पड़ते हैं कि कोई बीमार है तो फौरन डॉक्टर को दिखाएं और साथ मे मुंह ढक लें व हाथ को सेनिटाइज करते रहे। फोरम इस अभियान के माध्यम से लोगों को संदेश भी दे रहा है कि अपने आस पास परिवेश में ऐसे परिवारों तक साबुन, सेनिटाइजर आदि पहुचाने का प्रयास करें जो अभाव में इन वस्तुवों को ख़रीदबे में सक्षम नही है। साथ ही जिला प्रशासन से अपील की कि इस अभियान से जुड़कर इसको घर घर तक पहुचाने में मदद करे। जागरूकता अभियान में मुहम्मद अली, हफ़ीज़ उल्लाह, कहकशा, जाग्रति, सिम्मी, राधा, आशीष, इक़रा, दीपक, ज़हीन, आदि युवा साथी शामिल हुए।