अवध विवि कार्यपरिषद की हुई बैठक

    संविदा शिक्षकों की नियुक्ति हेतु सम्पन्न चयन समितियों की संस्तुतियों पर किया गया अनुमोदन

    Advertisement

    फैजाबाद। डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कौटिल्य प्रशासनिक सभागार में कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित की अध्यक्षता में कार्य परिषद् की बैठक हुई। बैठक के प्रारम्भ में कुलसचिव डाॅ0 विनोद कुमार सिंह ने कार्यपरिषद् के सदस्यों का स्वागत करते हुए कार्यवृत्त को अनुमोदनार्थ हेतु सदस्यों के समक्ष रखा। बैठक में विगत दिनांक 31 जनवरीए 2018 के कार्यपरिषद् की कार्यवृत्त की पुष्टि किया गई। इसी के क्रम में लिए गये निर्णयों पर की गई कार्यवाही से परिषद् को संसूचित किया गया एवं परीक्षा समिति की बैठक दिनांक 17 मईए 2018 में की गई संस्तुतियों का अनुमोदन किया गया।
    कार्यपरिषद् ने वित्त समिति की बैठक में लिए गये निर्णयों के अनुमोदन पर भी स्वीकृति देते हुए समिति ने अपनी कार्यवाही की तथा प्रवेश समिति की प्रस्तावित बैठक 9 जूनए 2018 में की गई संस्तुतियों पर स्वीकृति प्रदान की गई। बैठक में विद्या परिषद् की बैठक दिनांक 12 जूनए 2018 में लिए गये निर्णयों पर परिषद् ने सहमति प्रदान की एवं विश्वविद्यालय के 23 वें दीक्षांत समारोह हेतु निर्धारित तिथि 15 सितम्बरए 2018 के संन्दर्भ से परिषद् को संसूचित किया गया।
    परिषद् की बैठक में कैरियंर एडवांसमेंट योजना के अन्तर्गत विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों में कार्यरत शिक्षकों को प्रोन्नत किये जाने हेतु स्क्रीनिंग समितिध्चयन समिति की संस्तुतियों पर अनुमोदन किया गया। जिसमें भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक तथा गणित एवं सांख्यिकी में एक.एक प्रोफेसरए बायोकमेस्ट्री में एक प्रोफेसर एवं एक.एक एसोसिएट प्रोफेसर इसी के साथ ही प्रौढ़ सतत् एवं प्रसार शिक्षा में एक परियोजना अधिकारी प्रोन्नत किए गये।इसी के साथ परिसर में संचालित नियमित पाठ्यक्रमों में शिक्षकों की नियुक्ति हेतु सम्पन्न चयन समितियों की संस्तुतियों के अनुमोदन पर भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक विभाग में 02 एसोसिएट प्रोफेसर के साथ बायोकमेस्ट्री में एक प्रोफेसर एवं प्रौढ़ सतत् एवं प्रसार शिक्षा में एक निदेशक एवं सहायक निदेशक की नव नियुक्ति की गई। बैठक में विश्वविद्यालय के तकनीकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान में स्ववित्तपोषित योजना के अन्तर्गत चल रहे अन्य शैक्षणिक विभागों में संविदा शिक्षकों की नियुक्ति हेतु सम्पन्न चयन समितियों की संस्तुतियों पर अनुमोदन किया गया।
    बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि उत्तर प्रदेश राज्य विश्वविद्यालय एवं सम्बद्धध्सहयुक्तध्घटक महाविद्यालयों के मृतक आश्रितों के सेवायोजन हेतु उत्तर प्रदेश सेवाकाल में मृत सरकारी सेवकों के आश्रित की भर्ती नियमावली 1974 ;यथा संसोधितद्ध के प्रविधानों को लागू किये जाने हेतु राज्यपाल सचिवालयए उ0प्र0 की अनुमति दिनांक 9 फरवरी से परिषद् के अनुमादनार्थ प्रस्तुत किया गया। साथ ही अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में भविष्य में समूह घ के रिक्त होने वाले पदों पर आउट सोर्सिंग के माध्यम से व्यवस्था किये जाने हेतु राज्यपाल सचिवालयए उ0प्र0 की अनुमति दिनांक 26 फरवरीए 2018 से परिषद् को संसूचित किया गया। कार्यपरिषद् को विश्वविद्यालयों एवं उनसे सम्बद्धध्सहयुक्त अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों के शिक्षकों को 62 वर्ष की अधिवर्षिता आयु के उपरांत राष्ट्रीयध्राज्य पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को 02 वर्ष का सेवा विस्तार प्रदान किये जाने हेतु राज्यपाल सचिवालयए उ0प्र0 की अनुमति विषयक सूचना दिनांक 05 मार्चए 2018 से संसूचित किया गया। विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में शिक्षकों एवं शैक्षणिक स्टाफ सदस्यों की नियुक्ति के लिए निर्धारित अर्हता एवं मानकों के व्यवस्थापन के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा निर्गत नियमनए 2010 के संसोधित विनियमों को लागू किए जाने हेतु राज्यपाल सचिवालयए उ0प्र0 की अनुमति 20 मार्चए 2018 से परिषद् के अनुमोदनार्थ प्रस्तुत किया गया।
    उत्तर प्रदेश शासनए उच्च शिक्षा अनुभाग.4 के शासनादेश दिनांक 22 फरवरीए 2018ए जो उत्तर प्रदेश राज्य विश्वविद्यालयों में कार्मिकों के प्रतिनियुक्ति के आधार पर तैनाती किये जाने के सम्बन्ध में सकारात्मक विचारार्थ प्रस्तुत किया गया। बैठक में सैय्यद मोहम्मद इश्तियाक महिला महाविद्यालयए नवाबगंजए गोण्डा के सम्बन्ध में विश्वविद्यालय को प्राप्त शिकायती पत्र की जाॅच हेतु गठित जाॅच आख्या के तद्क्रम में चार सदस्यों की जाॅच कमेटी बनाई गई। बैठक में प्रमुख रूप से वित्त अधिकारी लाल प्रताप सिंहए कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंहए कृष्ण कुमार मिश्रए सर्वेंद विक्रम सिंहए प्रो0 राज कुमार तिवारीए प्रो0 एस0एन0 शुक्लाए प्रो0 राजीव गौड़ए प्रो0 श्रीराम विश्वकर्माए डाॅ0 नीता सिंहए डाॅ0 एल0के0 मिश्रए डाॅ0 शैलेन्द्र कुमारए डाम्0 तहिना वर्माए डाॅ0 एस0सी0 त्रिपाठीए डाॅ0 वीरेन्द्र प्रताप सिंह सहित अन्य उपस्थित रहे।