The news is by your side.

अवध विवि के प्रशिक्षु टूरिस्ट गाइड विभिन्न ऐतिहासिक धरोहरो से हुए परिचित

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंध एवं उद्यमिता विभाग द्वारा टूरिस्ट गाइड ट्रेनिंग के अंतर्गत प्रशिक्षु टूरिस्ट गाइड को अयोध्या के विभिन्न स्थलों का भ्रमण कराया गया एवं उन्हें भौगोलिक एवं ऐतिहासिक जानकारी प्रदान की गई। इसमें विभागाध्यक्ष प्रो. हिमांशु शेखर सिंह व गोरखपुर विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ डॉ. सर्वेश कुमार के नेतृत्व में प्रशिक्षु टूरिस्ट गाइड ने क्वीन हो पार्क से यात्रा प्रारंभ की।

Advertisements

इन्हें राजकुमारी हो के बारे में विस्तार से बताया कि कैसे वह दक्षिणी कोरिया गई और भारत सरकार एवं कोरियाई सरकार ने अयोध्या में एक कोरियन पार्क बनाये जाने का अनुबंध किया। उन्हें यह भी बताया कि यहाँ पर कोरियन पार्क कोरियन वास्तुकला स्टाइल में बना है। वहाँ की पारंपरिक चीजों का उपयोग इस पार्क को बनाने में किया है। जिसके कारण बहुत सारे कोरियन टूरिस्ट आते हैं और आगे बहुतायत में आने की संभावना है।

इस भ्रमण में प्रशिक्षु टूरिस्ट गाइड को राम की पैड़ी पर स्थित नागेश्वर नाथ मंदिर का इतिहास और उसके आर्किटेक्चर से परिचित कराया गया। इसके उपरांत उन्हें लक्ष्मण घाट, ऋणमोचन घाट, पापमोचन घाट होते हुए लक्ष्मण किला पर जाकर गाइड का भ्रमण समाप्त हुआ। इस दौरान डॉ0 सर्वेश ने टूरिस्ट गाइड को सभी स्थलों के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि अयोध्या के सभी मंदिर एवं घाट अपना एक ऐतिहासिक महत्व रखते है। जिसे टूरिस्ट गाइड को जानना होगा और पर्यटकों को बताना होगा। इस भ्रमण से पहले प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह ने डॉ0 सर्वेश कुमार का स्वागत किया और बताया कि इनके द्वारा अयोध्या पर बहुत शोध किए गए है।

इसे भी पढ़े  इस बार इंडिया गठबंधन की बनने जा रही सरकार : श्यामलाल पाल

अयोध्या के भौगोलिक एवं ऐतिहासिक जानकारी प्राप्त कर एक अच्छे टूरिस्ट गाइड बन सकते है। इस भ्रमण प्रो0 शैलेंद्र कुमार वर्मा, डॉ0 महेंद्र पाल सिंह, डॉ0 आशीष पटेल, डॉ0 रामजीत सिंह यादव, डॉ0 राकेश कुमार, डॉ0 रविन्द्र भारद्वाज, डॉ0 प्रियंका सिंह सहित प्रशिक्षु टूरिस्ट गाइड उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.