लॉक डाउन के चलते अवध विश्वविद्यालय 14 अप्रैल बंद

केन्द्रीय मूल्यांकन कार्य भी अग्रिम आदेश तक रहेगा स्थगित

Advertisement

अयोध्या। देश के प्रधानमंत्री व भारत सरकार द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिए सम्पूर्ण भारत वर्ष में 21 दिन का लॉक डाउन धोषित किया हैं। इसी तदक्रम में डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित के निर्देश पर पूर्व के आदेश के क्रम में विश्वविद्यालय एवं सम्बद्ध महाविद्यालय तत्काल प्रभाव से 14 अप्रैल, 2020 तक बन्द रहेंगे।
विश्वविद्यालय के उपकुलसचिव विनय कुमार सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय के कार्यां के संपादन के लिए शिक्षकों एवं कर्मचारियों को आवश्यकता पड़ने पर सेनेटाइजेशन प्रोटोकाल का अनिवार्य रूप से अनुपालन कराते हुए बुलाया जा सकता है। परिसर में केन्द्रीय मूल्यांकन कार्य भी अग्रिम आदेश तक स्थगित रहेगा। उपकुलसचिव ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सोशल डिस्टेसिंग के उपायों को अपनाने के लिए दिये गये निर्देशों का अनुपालन कड़ाई से किया जाये। इस अवधि में विश्वविद्यालय के सम्पूर्ण परिसर में सेनेटाइजेशन का कार्य अनवरत जारी रहेगा। विश्वविद्यालय में स्थित स्वास्थ्य केन्द्र कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिए निरन्तर कार्यशील रहेगा और संक्रमण की स्थिति में तत्काल प्राथमिक सहायता प्रदान करेगा।

इसे भी पढ़े  झोलाछाप के इंजेक्शन से युवक की मौत