The news is by your side.

अमेठी : पूर्व प्रधान समेत चार की हत्या, गांव के लोगों में आक्रोश

-जमीनी विवाद में एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर किया लाठी डंडे व धारदार हथियार से हमला

अमेठी । जिले मे जमीनी विवाद को लेकर मंगलवार देर रात एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर लाठी डंडे व धारदार हथियार से हमला बोल दिया। अमेठी थाना क्षेत्र के राजापुर गांव में हुई इस घटना में पूर्व प्रधान समेत चार की मौत हो गई है जबकि पांच अन्य घायल हैं। सभी घायलों की हालत गम्भीर बताई जा रही है। घटना को लेकर उपजे आक्रोश को देखते हुए गांव को छावनी में तब्दील करने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Advertisements

अमेठी थाना क्षेत्र के गांव राजापुर मजरे गुंगवाक्ष निवासी अमरेश यादव पूर्व में ग्राम प्रधान रहे हैं। उनका भूमि के एक टुकड़े को लेकर पड़ोसी रामदुलारे यादव से विवाद चल रहा था। मंगलवार को अमरेश इसी भूमि पर मोरंग गिरवा रहे थे। इसी बात को लेकर उनकी रामदुलारे पक्ष से कहासुनी हुई थी।

कहासुनी के बाद रात करीब नौ बजे रामदुलारे पक्ष के लोगों ने लाठी डण्डे व धारदार हथियार से अमरेश पक्ष पर हमला बोल दिया। हमले में पूर्व प्रधान अमरेश, उनके भाई हनुमान, अमरजीत व अशोक तथा पिता संकठा प्रसाद, मां ननका, पत्नी धन्नो, पुत्र राज अमरजीत की पत्नी अनीता घायल हो गए। मारपीट में एक साथ नौ लोगों के घायल होने की सूचना पर प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने सभी घायलों को सीएचसी अमेठी पहुंचाया।

अमेठी में अमरेश (42) को मृत घोषित करते हुए शेष को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल में अमरेश के पिता संकठा (65), मां ननका उर्फ पार्वती (64) व बड़े भाई हनुमान (45) को भो मृत घोषित कर दिया गया। अन्य घायलों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है। मारपीट की घटना में एक साथ हुई चार मौतों को लेकर उपजे आक्रोश को देखते हुए गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। अमेठी समेत कई थानों की फोर्स गांव में तैनात है। सीओ अर्पित कपूर व एसएचओ विनोद सिंह भी गांव में डटे रहे।

गांव के दबंग कर रहे थे कब्जा

अमेठी कोतवाली क्षेत्र के गूंगवाछ के रहने वाले पूर्व प्रधान संकटा प्रसाद के घर के बगल में खाली जमीन है। आरोप है कि मंगलवार रात इस पर गांव के ही रामदुलारे, बृजेश और अखिलेश कब्जा कर रहे थे। संकटा ने विरोध किया तो दबंग लाठी-डंडों और धारदार हथियार लेकर संकटा के घर में घुस गए। दबंगों ने पूरे परिवार पर हमला कर दिया।

पूरे परिवार को घर में घुसकर पीटा

हमले में संकटा प्रसाद पुत्र जगदेव यादव, हनुमान यादव पुत्र संकटा प्रसाद, धन्नो देवी पत्नी अमरेश यादव, नयका देवी पत्नी संकटा प्रसाद, राजकुमार यादव पुत्र अमरेश यादव और अशोक कुमार पुत्र संकटा प्रसाद गंभीर रूप से घायल हो गए। चीख-पुकार सुन आसपास के लोग दौड़े तो दबंग धमकी देकर भाग गए। ग्रामीणों ने घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान संकटा यादव, हनुमान यादव, अमरेश यादव और पार्वती यादव की मौत हो गई। वहीं, अन्य घायलों का इलाज किया जा रहा है।

Advertisements

Comments are closed.