भारतीय संस्कृति की रीढ़ है योग: लल्लू सिंह

करें योग रहे निरोग संकल्प के साथ मना विश्व योग दिवस

अयोध्या। भारतीय संस्कृति की रीढ़ है योग, दुनिया में जब हम जगत गुरू के स्थान पर पहुंचते थे, उसका सबसे बड़ा माध्यम योगा था। योग के माध्यम से अपने जन विचार एवं शरीर को स्वस्थ रखते है। हमारे शरीर की धमनियों मंे योग के माध्यम से रक्त संचार होता रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने योग को संयुक्त राष्ट्र के माध्यम से जो जन कल्याण व विश्व को स्वस्थ बनोन का कार्य किया है वह प्रसंसनीय है। उक्त विचार सांसद लल्लू सिंह ने योग शिविर के उद्घाटन अवसर कही। इस अवसर पर भाजपा जिला अध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल उपस्थित थे। अयोध्या विधानसभा के विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने अपने सम्बोधन में कहा कि योग हमारे जीवन के लिए बहुत ही उपयोगी है। हर व्यक्ति को योग करना चाहिए। हर व्यक्ति योग करें की जागरूकता ग्रामीण क्षेत्रो तक पहुंचना शेष है।
इस मौके पर आयुक्त मनोज मिश्र ने कहा कि केवल एक दिन के योग से कोई लाभ नहीं होगा इसे नित्य प्रतिदिन करें। योग से शरीर के अन्दर की बीमारियां दूर होती है। शरीर स्वस्थ रहता है। मन एकाग्र होता हे जिससे व्यक्ति की कार्यक्षमता निश्चित रूप से बढ़ती है और व्यक्ति प्रसन्नचित रहता है। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कहा कि योग इस देश की प्राचीन धरोहर है। आदिकाल इसे केवल ऋषि मुनी ही करते थे। धीरे-धीरे इस पद्धति को युवा व स्वस्थ रहने के लिए उच्च वर्ग ने अपनाया। प्रधानमंत्री की मंशा है कि भारत युवा देश होने के साथ सभी पूर्ण रूप से अर्थात मन कर्म, वाणी व शरीर से स्वस्थ रहे। प्रधानमंत्री पूरे विश्व को योग से होने वाले अमूल्य लाभ से परिचित कराया। इसे अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति दिलाई। योग कोई पूजा पद्धति नहीं है एवं वैज्ञानिक क्रिया है जिसे ऋषिमुनियों ने लम्बी आयु एवं पूर्ण रूप से स्वस्थ रहने के लिए इजात किया था। जाति, धर्म, क्षेत्रवाद से ऊपर उठकर सभी को अपने जीवन में अपनाना चाहिए। योग दिवस पर भस्त्रिका प्राणायाम, कपालभाति प्राणायाम, वाहा्र प्राणायाम, अग्निसार क्रिया, उज्जायी प्राणायाम, अनुलोम-विलोम प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम, उद्गीत, प्रणव प्राणायाम (ध्यान) इसके ही कुछ मुख्य आसन भी करायें गये जो मण्डूकासन, शशकासन, गोमुखासन, वक्रासन, मकरासन, भुजांगासन, शालभासन, मर्कटासन, पवनमुक्तासन, अर्द्धहलासन, पादवृत्तासन, द्वि-चक्रिकासन व शवासन कराये गये।
योग दिवस पर योग करने पहुंचे आयुक्त मनोज मिश्र, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, एसएसपी आशीष तिवारी, एडीएम प्रशासन सोमदत्त मौर्य, सीआरओ पीडी गुप्ता, सिटी मजिस्ट्रेट संतोष कुमार, परियोजना निदेशक कलमेश कुमार, जिला विकास अधिकारी हवलदार सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी सत्य प्रकाश सिंह, डीडीसी चकबन्दी वीडी पाण्डेय, जिलाधिकारी के आशुलिपिक के0के श्रीवास्तव सिहत बड़ी संख्या में महिलाएं एवं पुरूष पहुंचे योग स्थल पर उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े  कुल्हाड़ी से हमलाकर चचेरे भाई ने किया मरणासन्न, लखनऊ रेफर

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More