जिला जज गिरिजेश पाण्डेय हुए सेवानिवृत्त

न्यायिक अधिकारियों ने दी भावभीनी विदाई

अयोध्या। 33 वर्ष की न्यायिक सेवा करने के बाद श्री गिरजेश कुमार पाण्डेय जनपद न्यायाधीश फैजाबाद कल 31 मई 2019 को सेवा निवृत्त हो गये। इस उपलक्ष्य पर न्यायिक अधिकारियो द्वारा पंचशील रिजार्ट में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम में जिला जज ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि सभी अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण उनके जाने के बाद भी समाज को न्याय दिलाने में सदैव कर्मठता से प्रयत्नशील रहेंगे और जनता का विश्वास जीतने में कामयाब रहेंगे तथा भारतीय लोक तंत्र को मजबूत बनायेंगे।  क्रार्यक्रम में उपस्थित विशेष अतिथिगण जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने अपने संबोधन में जिला जज द्वारा किए गए महत्वपूर्ण प्रशासनिक बदलाव की प्रशंसा की, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेन्द्र कुमार ने पुलिस विभाग की ओर से , ब्रिगेडियर ज्ञानोदय ने भारतीय सेना की ओर से,  एवं मुख्य चिकित्साधिकारी हरिओम श्रीवास्तव ने स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिला जज को स्मृति चिन्ह प्रदान किया। कार्यक्रम की शुरूवात सुमन तिवारी सिविल जज सी.डि. एफ0टी0सी0, सुश्री अनीता जे. एम., रश्मि चंद जे.एम. एवं साधना गिरी सिविल जज जू0डि0 द्वारा भगवान राम की स्तुति से हुआ।अपर जिला जज सुरेश शर्मा ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों का सुभारम्भ किया। अशोक कुमार ए0डी0जे0 प्रथम एवं हरिनाथ पांडे ए0डी0जे0 द्वितीय ने न्यायिक परिवार की ओर से जिला जज केा स्मृति चिन्ह, शाल एवं रामायण प्रदान किया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अयोध्या के सचिव चन्द्रमोहन मिश्रा ने फिल्मी गीत ‘रूक जाना नहीं तु कहीं हार के’ सुनाकर सबको मंत्र मुग्ध कर दिया। रीता कौशिक प्रधान पारिवारक जज एवं ए0डी0जे0 भूदेव गौतम ने अवगत कराया कि जिला जज का नाम उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति के पद पर सुशोभित होने के लिए भेजा जा चुका है। डा0 सुनील कुमार सिंह सिविल जज सी0डि0 ने अवगत कराया कि जज साहब ने फैजाबाद के अपने कार्यकाल में अनेकों महत्वपूर्ण बदलाव किए, बैकलाग क्लीयरेंश एवं प्राचीनतम मुकदमों के निपटारों का किर्तिमान स्थापित किया, नये न्यायालयों की बिल्डिंग का काम तेज किया, न्यायालयों में कागज, फर्नीचर और सफाई व्यवस्था की कमी को पूरा किया एवं बार एवं बेंच में समन्वय स्थापित करवाया। उन्होंने जज साहब को एक बेहतरीन इन्सान बताया जिनके अंदर एक सच्चा नेतृत्व कौशल एवं त्रुटीहीन चरित्र बसता है। अभिनव तिवारी सिविल जज जू0डि0 सदर ने जज साहब को ईमानदारी और सत्यनिष्ठा का मिसाल बताते हुए सभी न्यायिक अधिकारियों का प्रेरणा स्रोत बताया। सभी न्यायिक अधिकारियों ने इनके दीर्घायु एवं अच्छे स्वास्थ्य की कामना की और यह भी कहा कि उनसे यदि कोई भूल हो गयी हो तो उसे क्षमा करेंगे। कार्यक्रम का सफल संचालन ज्ञान प्रकाश तिवारी ए0सी0जे0एम0 प्रथम द्वारा किया गया एवं धन्यवाद ज्ञापन मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रद्धा तिवारी द्वारा दिया गया। कार्यक्रम में सत्य प्रकाश, सुरेश चन्द्र आर्य, पूजा सिंह, कुशलपाल, रविन्द्र द्विवेदी, असद अहमद हाशमी, वरूण मोहित निगम, विजय कुमार गुप्ता, संजीव कुमार त्रिपाठी, सर्वेश मिश्रा, सिविल जज सी0डि0, पवन सिंह ए0सी0जे0एम0 ,अवनीश चन्द्र गौतम, साधना गिरी एवं मयूरेश श्रीवास्तव सिविल जज जू0डि0 एवं अन्य न्यायिक अधिकारीगण मौजूद रहें। उक्त जानकारी नवीन पाण्डेय ने दी।

इसे भी पढ़े  दुनियां का सबसे बड़ा लिखित भारतीय संविधान : प्रो. रविशंकर सिंह

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More