बदले की भावना व तंत्रमंत्र के चलते की गयी नाबालिग शिवम् की हत्या

हत्यारोपी तांत्रिक सहित एक महिला गिरफ्तार

(जितेन्द्र यादव)
रुदौली-फैजाबाद। कोतवाली रूदौली अंतर्गत ग्राम गौहन्ना में एक माह पूर्व लापता हुए नाबालिग शिवम् हत्या कांड का कोतवाली पुलिस ने खुलासा कर दिया है। बदले की भावना व् तंत्र विद्या के चलते की गयी नाबालिग शिवम् की हत्या।हत्या में शामिल तांत्रिक सहित एक महिला को पुलिस ने किया ग्रिफ्तार।
प्राप्त जानकारी के अनुसार 27 अप्रेल को कोतवाली रूदौली के गौहन्ना निवासी नाबालिग शिवम लापता हो गया था जिसकी तहरीर शिवम् के पिता हरिओम द्वारा मु0अ0सं0 155/18 में धारा 362 आईंपीसी के तहत पंजीकृत कराया था जिसकी जांच उपनिरीक्षक शमशाद अली कर रहे थे।काफी प्रयास व् खोजबीन के बाद नाबालिग का शव गाँव की ही संतराम के कुवें से बरामद हुआ।पोस्टमार्टम के बाद मुकदमा धारा 302 में तरमीम हुआ और विवेचना कोतवाल जयवीर सिंह ने आरम्भ की।
संकलित साक्ष्य में गाँव के ही श्रीमती मालती पत्नी भागीरथ लोध व् शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू पुत्र राम तीरथ का नाम प्रकाश में आया।कोतवाल जयवीर सिंह ने बताया कि आरोपी मालती का पुत्र दिनेश मृतक शिवम् के पिता हरिओम के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित पांडेय ढाबा पर काम करते थे लगभग 8 वर्ष पूर्व आरोपी के पुत्र दिनेश की ढाबा पर ही मृत्यु हो गयी थी।मालती को शक था कि उसके पुत्र की मृत्यु में हरिओम का हाथ है और कई बार मालती ने हरिओम व् उसकी पत्नी आरती को धमकी भी दी थी कि वह इसका बदला जरूर लेगी।
बताते है कि शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू ने एक निष्ठ खेत खरीदा।इस खेत को पहले भी कई लोगों ने खरीदा था तो वह लोग रूहानी ताकतों से परेशान हो गए।आरोपी शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू तांत्रिक है उसने सार्वजानिक रूप से कई बार ऐसा कहा भी की खेत बलि मांग रहा है।मैं तंत्र विद्या से ठीक कर दूंगा और उसने खेत खरीद लिया।शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू को खेत ठीक करने के लिए बलि देनी थी।मालती व् शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू के अच्छे संबन्ध थे।दोनों आरोपियों ने योजना बनाई। बच्चे शिवम् को मालती ने अपनी लड़की नीतू से खेलने के बहाने शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू के ट्यूबवेल जो जंगल में स्थित है पर ले गए जहाँ मालती ने बच्चे शिवम् को शैलेंद्र पांडेय को सौंप दिया।शैलेन्द्र पांडेय ने अपनी तंत्र विद्या व् पूजा पाठ करके बच्चे शिवम् की गला दबाकर हत्या कर लाश को गायब करने की नीयत से संतराम के कुंवे में डाल दिया।
दोनों आरोपियों को पुलिस टीम ने 28 मई की सुबह 8 बजे शैलेन्द्र पांडेय उर्फ बब्बू के घर से ग्रिफ्तार किया।पुलिस की इस टीम मे कोतवाल जयवीर सिंह,उपनिरीक्षक शमशाद अली,सुजीत कुमार मौर्य,आशीष यादव,महिला उपनिरीक्षक रेखा देवी सहिंत महिला आरक्षी रश्मि व् ज्ञान भारती शामिल रहे।

इसे भी पढ़े  खेत की रखवाली करने गए वृद्ध की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत़

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More