एलआईसी की ’’जीवन उत्कर्ष’’ 2 को होगी बंद

    Advertisement

     

    फैजाबाद। भारतीय जीवन बीमा निगम की योजना ‘‘जीवन उत्कर्ष’’ जो सुरक्षा एवं बचत का अत्यन्त बेहतरीन मिश्रण है, यह योजना 2 जून के बाद बन्द हो रही है। फैजाबाद मण्डल के वरिष्ठ मण्डल प्रबन्धक मनोज अत्रिषी ने यह बताया कि यह एक 12 वर्षीय एकल प्रीमियम प्लान है जिसमें जमा राशि के दस गुना जोखिम सुरक्षा के साथ परिपक्वता पर उच्च रिटर्न प्राप्त होता है, और यह आम जनमानस के लिए टैक्स में छूट प्राप्त करने हेतु यह अद्वितीय योजना है। इसमें बीमा लेते समय तो कर की छूट प्राप्त होती ही है, साथ ही साथ पूर्णावधि पर प्राप्त राषि भी कर से मुक्त होती है। न्यूनतम प्रवेश आयु 6 वर्ष (पूर्ण) एवं अधिकतम प्रवेश आयु 47 वर्ष (निकटतम जन्मदिन पर) के साथ न्यूनतम बीमाधन की सीमा रु. 75000/- एवं अधिकतम बीमाधन की कोई सीमा नहीं है। पाॅलिसी जारी होने की तिथि से 3 माह व्यतीत हो जाने के पश्चात् कभी भी इस योजना के अंतर्गत ऋण प्राप्त किया जा सकता है। इसमें एकल प्रीमियम की 10 गुना जोखिम सुरक्षा उपलब्ध है। इस योजना में प्रस्तावक के पास मूल बीमाधन राषि को चुनने का विकल्प उपलब्ध होगा। यह योजना निर्धारित अवधि पर समाप्त हो जाने वाली योजना है जो सितम्बर 2017 में प्रारम्भ की गयी थी एवं 2 जून 2018 को बन्द हो जायेगी। इस योजना के अंतर्गत निगम के अनुभव पर आधारित एवं समय-समय पर घोषित दरों एवं शर्तानुसार सहभागिता हितलाभ (लाॅयल्टी एडिशन) भी या तो पाॅलिसी अवधि के दौरान 5 पाॅलिसी वर्षों के पश्चात् पाॅलिसीधारक की मृत्यु होने पर या परिपक्वता पर प्रदान किया जायेगा।इस योजना के अंतर्गत पाॅलिसीधारक के पास अतिरिक्त विकल्प के रुप में दुर्घटना हितलाभ एवं अपंगता हितलाभ का चयन करने की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

    इसे भी पढ़े  ट्रक से चोरी हुआ चावल बरामद, ड्राइवर ने ही बेंचा था चावल

    पाॅलिसीधारक को परिपक्वता अथवा मृत्यु की दशा में प्राप्त होने वाली धनराषि को एकमुश्त प्राप्त करने के अतिरिक्त 5, 10 अथवा 15 वर्षों में विस्तारित अवधि के दौरान किष्तों में प्राप्त करने का विकल्प भी उपलब्ध है। इस योजना के अंतर्गत सितम्बर 2017 से अभी तक में फैजाबाद मण्डल में 2318     पालिसियांँ में रू0 15.33 करोड़ प्रथम प्रीमियम जमा किया गया है। अतः आम जनमानस से अपील है कि 2 जून से पहले इस अनूठी योजना का अधिक से अधिक लाभ उठायें।