अंधविश्वास को समाप्त करने का सशक्त माध्यम है पत्रकारिता: ऋषिकेश

पत्रकारिता दिवस पर संगोष्ठी का हुआ आयोजन

Advertisement

अयोध्या-फैजाबाद। समाज में व्याप्त अंधविश्वास को समाप्त करने का सशक्त माध्यम पत्रकारिता है। आज तकनीकि हावी हो रही है, आने वाली पीढ़ी का लिखने-पढ़ने से मोह भंग हो रहा है यह सुभ संकेत नहीं है। तकनीकि तो आवश्यक है ही लेकिन उसके साथ अपनी संस्कृति को भी बचाना है। पत्रकारिता हमारे देश की संस्कृति रही है। भारत को आजाद कराने में पत्रकारिता की भूमिका अहम रही है।
उक्त बातें अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने कही। वे प्रेसक्लब अयोध्या के तत्वाधान में पत्रकारिता दिवस पर आयोजित संगोष्ठी को मुख्यअतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। संगोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे दिगंबर अखाड़े के श्रीमहंत सुरेश दास ने कहा कि किसी भी राष्ट्र के विकास में चतुर्थ स्तंभ मीडिया का अहम योगदान है। कहा कि उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या के विकास को लेकर प्रतिबद्ध हैं तमाम योजनाएं लाई जा रही हैं, कुछ भी काम भी शुरू हो चुका है। कहा कि अयोध्या में शीघ्र ही मीडिया सेंटर योगी सरकार उपलब्ध कराएगी।
महंत जन्मेजय शरण ने कहा कि पत्रकार अपनी लेखनी व विचार से देश को दिशा देने का काम करता है। राष्ट्र की एकता अखंडता में पत्रकारिता की अहम भूमिका है। उपसूचना निदेशक अतुल मिश्रा ने आश्वस्त किया कि अयोध्या में मीडिया सेंटर निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है सूचना निदेशक उत्तरप्रदेश लखनऊ ने जिलाधिकारी फैजाबाद को पत्र जारी कर कहा है कि शीघ्र ही भूमि उपलब्ध कराकर मीडिया सेंटर निर्माण कार्य शुरू कराया जाए। योगी सरकार की उपलब्धियों का बुकलेट पर वितरित किया।
इससे पूर्व प्रेसक्लब अयोध्या के अध्यक्ष महेंद्र त्रिपाठी ने अतिथियों का स्वागत सत्कार किया। इस अवसर पर पत्रकारिता में विशेष योगदान के लिए केबी शुक्ला, अनूप कुमार को पत्रकारिता रत्न से सम्मानित किया गया। मुंबई से पधारे अनूप जलोटा के शिष्य सत्येंद्र पाठक को अवध रत्न से सम्मानित किया गया। गोष्ठी में रामजन्मभूमि के पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास, महंत बृजमोहन दास, महंत परमहंस दास, डाॅ.एकता त्रिपाठी, डाॅ.सम्राट अशोक मौर्य, एसएनबागी, नारायण मिश्र, शिवसामंत मौर्य, आकाश सोनी, प्रमोद श्रीवास्तव सहित अन्य मौजूद रहे।