समाज में नैतिक मूल्यों का हो रहा पतन: डा. अनिल कुमार

राजकीय जिला पुस्तकालय में नया सबेरा नाटक का हुआ मंचन

फैजाबाद। राजकीय जिला पुस्तकालय फैजाबाद एवं इण्डियन पब्लिक लाइब्रेरी मूवमेण्ट उ0प्र0 के संयुक्त तत्वाधान में 15 दिवसीय रंगमंचीय कार्यषाला का समापन समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ जिलाधिकारी डाॅ अनिल कुमार के द्वारा दीप प्रज्जवलन एवं माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। इस अवसर पर विभिन्न विद्यालयों के छात्र/छात्राओं ने प्रशिक्षक पी0के0गौड़ के निर्देशन में माँ सरस्वती वंदना की मनमोहक नृत्य प्रस्तुति, माइम शो, समूह गायन एवं बाल श्रम पर आधारित लघु नाटिका नया सवेरा का मंचन किया। जिसके माध्यम से सभी बच्चों को अनिवार्य रूप से स्कूली शिक्षा दिलाये जाने का संदेश बच्चों ने जनमानस में दिया। जिसका दर्शकों ने खूब लुत्फ उठाया। अतिथीय सम्बोधन में जिलाधिकारी ने बच्चों द्वारा प्रस्तुत नाटक की थीम को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आज समाज में नैतिक मूल्यों का ह्यास हो रहा है, जिसके कारण लोग एकाकी जीवन व्यतीत करते हैं, यह समाज के लिए किसी अभिशाप से कम नहीं है और नाटक मानवीय संवेदनाओं को जागृत करने का सषक्त माध्यम है। इस अवसर पर पुस्तकालयाध्यक्ष प्रिया श्रीवास्तव ने जिला विद्यालय निरीक्षक राजबहादुर सिंह चैहान को उपहार स्वरूप पुस्तक भेंट की। जिलाधिकारी द्वारा प्रशिक्षक पी.के. गौड़ को प्रशस्ति पत्र एवं सभी बाल कलाकारों को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। मंच संचालन कार्यक्रम के आयोजक इण्डियन पब्लिक लाइब्रेरी मूवमेण्ट उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय समन्वयक राजकुमार वर्मा ने किया। उक्त अवसर पर आई0पी0एल0एम0 प्रतिनिधि विष्वनाथ प्रताप सिंह, वित एवं लेखाधिकारी गिरीश चन्द्र, राजकीय इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य रमेश चन्द्र श्रीवास्तव एवं विजय सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने प्रतिभाग किया।

इसे भी पढ़े  पर्यटन की अयोध्या में बढ़ी संभावनाएं : जिलाधिकारी

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More