दोस्त ने दोस्त को कुल्हाड़ी से उतारा मौत के घाट

 

 हत्या के बाद शव को बोरे में भरकर घर के सामने फेंका

बहन से अवैध सम्बन्ध बना हत्या का कारण

मिल्कीपुर-फैजाबाद। कुमारगंज थाना क्षेत्र के पालपुर गांव में 40 वर्षीय युवक ने अपने ही दोस्त की कुल्हाड़ी से कई टुकड़ों में काटकर हत्या कर दी गई है। हत्या करने के बाद युवक के शव को बोरे में भरकर उसी के घर के सामने फेंक दिया गया। घटना की जानकारी मिलते ही युवक के परिजनों ने कुमारगंज थाना पुलिस को सूचना दिया।

जानकारी पाकर पहुंचे कुमारगंज थाना अध्यक्ष ने मृतक का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मृतक के बेटे की तहरीर पर पिता के दोस्त ज्ञानेंद्र सिंह उर्फ लल्ला के खिलाफ हत्या का मुकदमा कायम कर आरोपित दोस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

कुमारगंज थाना क्षेत्र के पालपुर गांव अंतर्गत तुलसमपुर निवासी ज्ञानेंद्र सिंह उर्फ लल्ला जय कुमार तिवारी में गहरी दोस्ती थी। दोनों एक साथ साथ बिजली वायरिंग का काम करते थे। बीते बुधवार को दोनों लोग एक साथ काम करने गए थे। मृतक जय कुमार तिवारी के बेटे का आरोप है कि उसके पिता काम से वापस लौटने के बाद ज्ञानेंद्र सिंह के घर गए थे और वहीं पर खाने-पीने का इंतजाम था। किंतु देर रात तक वह लौटे नहीं थे।

बुधवार की रात करीब 1 बजे राम कल्प तिवारी के घर के सामने बरामदे में साइकिल से लादकर ले जाया गया एक बोरा  गिराया गया बोरा बरामदे में रखी बाल्टी एवं प्लास्टिक के बोतल के ऊपर जा गिरा जिससे तेज आवाज हुई। आवाज सुनकर जय कुमार की पत्नी सहित उनके परिवारीजन भी जग गए। जयकुमार के परिवारीजनों ने देखा की बोरा खून से लथपथ है और बरामदे में भी काफी खून बन कर बिखर गया था।

इसे भी पढ़े  मस्जिद निर्माण से पहले हो रही मिट्टी की जांच

बोरे में जय कुमार तिवारी का कई खंडों में कटा हुआ शव रखा हुआ था। जिसे देखते ही परिवार में कोहराम मच गया और चीख पुकार सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए ग्रामीणों ने समूचे घटनाक्रम की जानकारी स्थानीय पुलिस चैकी देवगांव सहित कुमारगंज पुलिस को दी जानकारी पाकर कुमारगंज थाना अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह  चैकी प्रभारी लालधर प्रसाद हमराही सिपाहियों के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने घटना की कड़ियां जुटाना शुरू कर दिया तथा युवक का शव कब्जे में लेकर पंचनामा कराने के उपरांत पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के परिजनों ने पुलिस को बताया कि जय कुमार तिवारी की हत्या उन्हीं के दोस्त ज्ञानेंद्र सिंह ने अपने साथियों के साथ मिलकर की है।

घटना के संबंध में मृतक के बेटे विकास तिवारी ने अपने पिता के दोस्त ज्ञानेंद्र सिंह उर्फ लल्ला सिंह के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा लिखे जाने के लिए तहरीर दी। कुमारगंज थानाध्यक्ष ने मृतक के बेटे की तहरीर पर ज्ञानेंद्र सिंह के खिलाफ धारा 302,506 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत कर आरोपित ज्ञानेंद्र सिंह उर्फ लल्ला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

वहीं दूसरी ओर पुलिसिया पूछताछ में आरोपी ज्ञानेंद्र सिंह ने सारी कहानी बयां कर दी है ज्ञानेंद्र का कहना है कि वह और जय कुमार तिवारी दोनों साथ साथ काम करते थे जिसके चक्कर में जय कुमार तिवारी मेरे घर आया जाया करते थे। इसी बीच जयकुमार तिवारी का अवैध संबंध ज्ञानेंद्र सिंह की बहन से हो गया था जिसको लेकर ज्ञानेंद्र ने कई बार जयकुमार को समझाया और हिदायतें भी दी थी किंतु जयकुमार अपनी हरकतों से नहीं माने जिससे खार खाए ज्ञानेंद्र ने जयकुमार को रास्ते से ही हटा देने की ठान ली और बुधवार की रात उनका काम तमाम कर दिया। ज्ञानेंद्र का कहना है कि पहले जयकुमार का गला दबाया था जब सांस थम गई तब कुल्हाड़ी से उसका सर धड़ अलग कर दिया था।

इसे भी पढ़े  गुमनामी बाबा को हिंदू महासभा ने किया नमन

पुलिस ने आरोपी के कब्जे से आला कत्ल भी बरामद कर लिया है। वह दूसरी है मृतक के बेटे विकास का कहना है कि उसके पिता की निर्ममता पूर्वक हत्या ज्ञानेंद्र अकेले नहीं की है बल्कि हत्या में उसके अन्य साथी भी शामिल रहे हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More