‘‘संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े‘‘ के प्रभावी संचालन का डीएम ने दिया निर्देश

0

संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े में साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, खुले में शौच से मुक्ति, जलभराव रोकने तथा शुद्ध पेयजल की उपलब्धता पर विशेष जोर

फैजाबाद। जिलाधिकारी डॉ. अनिल कुमार ने आज जनपद में 01 से 15 अक्टूबर तक संचालित किए जाने वाले ‘‘संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े‘‘ को प्रभावी रूप से संचालित करने के निर्देश दिए जिससे कोई भी बच्चा या व्यक्ति संचारी रोगों, दिमागी बुखार एवं अन्य वेक्टर जनित रोगो से पीड़ित न हो इसके प्रभावी नियंत्रण हेतु अन्तर्विभागीय समिति सक्रिय रूप से कार्य करें। जिलाधिकारी ने कहा कि संचारी रोगों एवं दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण तथा इसका त्वरित एवं सही उपचार सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है यह रोग किसी भी आयु वर्ग के लोगो को हो सकता है। इस हेतु माह अप्रैल में विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े तथा जुलाई में विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह का आयोजन किया जा चुका है जिससे दिमागी रोग से होने वाली मृत्यु की दर में भारी कमी आई है उन्होंने कहा कि वर्तमान में वर्षा के उपरांत विभिन्न संचारी रोगों के फैलने की संभावना होती है जिसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश में 01 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े के रूप में मनाते हुए साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, खुले में शौच से मुक्ति, जलभराव रोकने तथा शुद्ध पेयजल की उपलब्धता पर विशेष जोर देते हुए ग्रसित व्यक्तियों के उपचार व इसके बचाव के बारे में जनसामान्य तक पहुंचाने एवं सभी जानकारियों की उपलब्धता सुलभ तरीके से पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होनें कहा कि इसके उपचार से बेहतर बचाव है।
मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि ग्राम स्तर पर तैनात सभी कर्मचारी विशेष सतर्कता बरते तथा इसके लिए ग्राम प्रधानो का भी सहयोग लें। जिलाधिकारी ने आईसीडीएस विभाग को कुपोषित बच्चों की पहचान और उपचार, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार हेतु प्रशिक्षण प्रदान करने, एईएस/जेई रोग से विकलांग कुपोषित बच्चों को अति कुपोषित बच्चों की भांति पुष्टाहार उपलब्ध कराने, विकलांग बच्चों को प्रशिक्षण एवं अन्य सुविधाओं की व्यवस्था करने तथा एएनएम एवं एवं आशा कार्यकर्ताओं को सक्रिय सहयोग करने के निर्देश दिए।
बैठक में जिलाधिकारी ने संचारी रोग नियन्त्रण पखवाड़े को सफल बनाने हेतु 27 सितम्बर को ब्लाक स्तरीय ग्राम प्रधान बैठक कराने, 28 सितम्बर को सभी विभागो द्वारा कार्ययोजना जमा करने, 29 सितम्बर को स्वास्थ्य विभाग द्वारा संकलित अन्तर्विभागीय कार्ययोजना उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक आनन्द, मुख्य चिकित्साधिकारी ए.के. गुप्ता, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी सीवी द्विवेदी, जिला मलेरिया अधिकारी एमए खान, जिला फाइलेरिया अधिकारी पीके श्रीवास्तव, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी आरके देव व चिकित्सकों सहित सम्बन्धित विभागो के अधिकारी उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े  कुलपति ने की विवि परिसर में संचालित पाठ्यक्रमों की समीक्षा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: