‘मन कक्ष’ का भाजपा सांसद ने किया उद्घाटन

कुव्यवस्था देख भड़के सांसद, लगाई सीएमएस को फटकार

फैजाबाद। बहु प्रतीक्षित काउंसलिंग सेंटर ‘मन कक्ष’ का फीता काटकर भाजपा सांसद लल्लू सिंह ने महिला चिकित्सालय परिसर स्थित आयुष भवन की दूसरी मंजिल उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद कुव्यवस्था को देखकर भाजपा सांसद भड़क उठे और उन्होंने जिला चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. अशोक कुमार राय को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि या तो व्यवस्था में सुधार लाओ या फिर यहां से तबादला कराके चले जाओ।
मन कक्ष का उद्घाटन विश्व अल्जाइमर दिवस के मौके पर किया गया। इस मौके पर मनो चिकित्सक डा. शिशिर वर्मा ने कहा कि अल्जाइमर रोग का सामान्य रूप डिमेंशिया है। यह मानसिक रोग होता है जिसमें मस्तिष्क की कोशिकाएं नष्ट हो जाती है और याददास्त में कमी आती है। ज्यादातर यह रोग 60 साल से ऊपर के लोगों में होता है परन्तु युवा भी अब इसके शिकार बन रहे हैं।
उद्घाटन के मौके पर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता, अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अशोक कुमार गुप्ता भी मौजूद रहे। उद्घाटन समारोह का संचालन डा. जी.सी.पाठक ने किया। मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. ए.के. सिंह, मनो चिकित्सक डा. शिशिर कुमार वर्मा और जिला चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. अशोक कुमार राय की भी उपस्थित रही।
उपस्थित लोगों को अवगत कराया गया कि मन कक्ष जिला स्तरीय परामर्श केन्द्र के रूप में स्थापित किया गया है। भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश के 44 जनपदों में मन कक्ष की सेवाएं मानसिक रोगियों को उपलब्ध करायी हैं। जिला मानसिक स्वास्थ्य विभाग के मनो चिकित्सक डा. शिशिर कुमार वर्मा व नैदानिक मनो वैज्ञानिक मुकेश कुमार पाठ के मार्गदर्शन में संचालित होगा। विभिन्न क्षेत्रों के परामर्शदाता को महीने में कम से कम एक दिन परामर्श सेवा निर्धारित की जायेगी। नैदानिक मनो वैज्ञानिक मन कक्ष में प्रत्येक सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को सेवा देंगे। अन्य दिनों मंगलवार, गुरूवार व शनिवार को जनपद के अन्य परामर्शदाता अपनी सेवाएं देंगे। इस मौके पर जिला मानसिक स्वास्थ्य इकाई के साइकियाट्रिक सोशल वर्कर डा. शान्ती आनन्द, साइकियाट्रिक नर्स सतीश कुमार, मानीटरिंग आफीसर अंकुर सक्सेना, कम्युनिटी नर्स रश्मी गुप्ता, सीआरए अनूप कनौजिया, वार्ड सहायक अवधेश पाल भी मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  फुटकर व थोक दवा की दूकानों के नहीं खुले शटर, भटक रहे लोग

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More