अवध विवि को क्लीन व ग्रीन बनाने की मुहिम शुरू

आईईटी परिसर में किया गया पौधरोपण

Advertisement

फैजाबाद। डाॅ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय को क्लीन और ग्रीन बनाने की मुहिम में वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन 27 मई से 4 जून, 2018 तक किया जा रहा है। इस वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम में आज आई0ई0टी0 परिसर में प्रातः 8ः00 बजे पर्यावरण को समृद्ध करने की इस मुहिम में डोगरा रेजीमंेट फैजाबाद के ब्रिगेडियर ज्ञानोदय एवं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने द्वितीय चरण की अध्यक्षता की।
वृक्षारोपण कार्यक्रम में डोगरा रेजीमंेट फैजाबाद के ब्रिगेडियर ज्ञानोदय एवं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने संयुक्त रूप से पौधे का रोपणकर पर्यावरण को समृद्ध करने की श्रंखला में सहभागिता करने आये डोगरा रेजीमंेट फैजाबाद के ब्रिगेडियर ज्ञानोदय ने बताया कि वृक्ष जीवनदायी परिवेश का निर्माण करने की एक महत्वपूर्ण प्राकृतिक कड़ी है। वृक्षों का संरक्षण स्वयं के पोषण स्वरूप है क्योंकि आक्सीजन की प्रचुरता मानव जीवन के लिए अत्यन्त आवश्यक है इसकी आपूर्ति सिर्फ वृक्षों से ही होती है। पर्यावरण सुरक्षा की प्राथमिकता प्रत्येक व्यक्ति का कर्तव्य है यथासंभव प्रयत्न कर इसे समृद्ध करना होगा ताकि हम आने वाली पीढ़ी को स्वस्थ एवं समृद्ध प्रकृति सौंप सके।
आई0ई0टी0 परिसर में कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने वृक्षारोपण कार्यक्रम में बताया कि धरती के लगातार बढ़ते तापक्रम को नियंत्रित करने के लिए यह आवश्यक है कि मिशन के तौर पर वृक्षारोपण अभियान चलाया जाये, नहीं तो जलवायु परिवर्तन होने के साथ-साथ वातावरण में विषाक्तता का अत्यधिक समावेश समूची मानव जाति के लिए खतरा बन जायेगा, यदि इसका निराकरण तत्काल प्रभाव से संभव नहीं हो सकेगा। प्रो0 दीक्षित ने नदियों में बढ़ता जल प्रदूषण, बेमौसम बरसात, बाढ़, चक्रवात, जलवायु परिवर्तन ये सभी ऐसे प्राकृतिक चेतावनी है, जिसे समय के रहते निराकरण कर लेना ही समझदारी होगी। कुलपति ने पर्यावरण की इस मुहिम में समाज के सभी वर्गाें से अपील की है कि पर्यावरण को संरक्षित करने हेतु सामाजिक स्तर पर गंभीर प्रयास करने होंगे ताकि प्रकृति द्वारा उपहार स्वरूप प्रदत्त जैव विविधता को संजोया जा सके। प्रो0 दीक्षित ने कहा कि वृक्षों का संरक्षण हमारी धार्मिक एवं सांस्कृतिक परम्परा का एक हिस्सा है यह हमें अपने पूर्वजों से विरासत में मिला है। वृक्षारोपण अभियान में विश्वविद्यालय के कुलसचिव डाॅ0 विनोद कुमार सिंह ने बताया कि वृक्षारोपण कार्यक्रम में कुल 26 हजार वृक्ष लगाये जाने है। द्वितीय चरण में आई0ई0टी0 परिसर में 32 सौ वृक्ष लगाये गये। यह वृक्षारोपण कार्यक्रम 30 मई से 1 जून, 2018 तक आई0ई0टी0 परिसर में तथा 2 जून से 4 जून, 2018 तक विश्वविद्यालय द्वारा स्थापित नवीन परिसर के 50 एकड़ के परिसर में सांय 4ः30 बजे किया जायेगा। जिसमें नीम, अशोक, बेल, आवला, लीची, रातरानी, मालती, मनोकामिनी, शोभावार, साइकस, हंससिंगार सहित बड़े वृक्षों को लगाये जाने की योजना है। इस अवसर पर प्रो0 आर0 के0 तिवारी, प्रो0 आर0 एन0 राय, प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह, प्रो0 चयन कुमार मिश्रा, प्रो0 रमापति मिश्रा, डाॅ0 शेलेन्द्र कुमार वर्मा, कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह, डाॅ0 श्रीश अस्थाना, डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, डाॅ0 वन्दिता पाण्डेय, डाॅ0 प्रियंका श्रीवास्तव, डाॅ0 सुधीर श्रीवास्तव, डाॅ0 महेन्द्र सिंह, इं0 शिक्षा जैन इं0 रवि प्रकाश पाण्डेय, डाॅ0 राज नारायण पाण्डेय, इं0 विनीत सिंह, इं0 परिमल तिवारी, डाॅ0 महिमा चैधरी, डाॅ0 संजीत पाण्डेय, आशीष मिश्रा, सहित विश्वविद्यालय के शिक्षक एवं कर्मचारी, छात्र-छात्राओं ने सहभागिता की।