स्टे जमीन पर कब्जा दिलाने के आरोप में कोतवाल व चौकी प्रभारी अदालत में तलब

अयोध्या कोतवाल, रायगंज चौकी प्रभारी सहित आधा दर्जन 12 जुलाई को अदालत में होंगे हाजिर

अयोध्या। जमीनी विवाद में कोर्ट स्टे के बावजूद पीड़ित राम सजन वर्मा की ग्राम जियनपुर स्थित भूमि पर पुलिस ने विपक्षीगणों को कब्जा दिला दिया। इस सम्बन्ध में पीड़ित ने सिविल जज सीनियर डिवीजन द्वितीय की अदालत में कोर्ट की अवमानना की गुहार लगाया। न्यायालय ने स्टेशुदा भूमि पर विपक्षियों को कब्जा दिलाने वाले अयोध्या कोतवाल जगदीश उपाध्याय, रायगंज चौकी प्रभारी यशवंत द्विवेदी सहित आधा दर्जन लोगों को 12 जुलाई को तलब किया है। पीड़ित का कहना है कि उसने अपनी पत्नी सीतापती पुत्रगण संजय कुमार वर्मा व राहुल कुमार वर्मा के नाम से ग्राम जियनपुर में भूमि लेकर तीन पक्की दूकान, दो रिहाइसी कमरा जिसमें टीन शेड और खुली भूमि है बनवा रखा है। इसी भूमि पर हनुमानगढ़ी हिरिद्वारी पट्टी के महंत मुरली दास, राम भद्र दास, अनिकेत, अंकुर आदि अपनी मिलकियत बताकर कब्जा लेना चाहते हैं इस सम्बन्ध में पीड़ित ने सिविल जज सीनियर डिवीजन द्वितीय की अदालत में 2010 से मुकदमा दायर कर रखा है जिसपर कोर्ट ने स्थगन आदेश जारी करते हुए प्रतिवादी महंत मुरलीदास को दौरान मुकदमा निषेधित किया है कि वह प्रार्थीगण के शांतिपूर्ण कब्जे में कोई हस्तक्षेप नहीं करेंगे। इस कोर्ट स्टे पर विपक्षी महंत मुरलीदास ने अपील कर चुनौती किया है। अपर जिला जज षष्टम ने 2011 को उनकी अपील को निरस्त भी कर दिया। स्थगन आदेश वर्तमान में भी लागू है। कोर्ट स्टे होते हुए भी विपक्षीगणों ने कोतवाली जगदीश उपाध्याय व चैकी प्रभारी यशवंत द्विवेदी की मिलीभगत से विवादित भूमि पर कब्जा कर लिया। पीड़ित का कहना है कि विपक्षी द्वारा जबरदस्ती कब्जा की गयी भूमि पुनः वापस कराया जाय।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  बाहुबली ग्रामीण डाकिया किये गये सम्मानित