योगी सरकार में यादव समाज पर ढ़ाये जा रहे जुल्म : इन्द्रपाल यादव

    Advertisement

     

     

    अत्याचार को लेकर यादव संघर्ष मार्चा ने किया धरना प्रदर्शन

    फैजाबाद । पूरे प्रदेश में यादव समाज पर हो रहे अत्याचार व प्रदेश की योगी सरकार द्वारा भेदभाव को लेकर सदर तहसील स्थित अमर शहीद हेमू कालाणी पार्क पर यादव संघर्ष मोर्चा ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में पूरे जनपद से यादव समाज के लोगों ने शिरकत की। इस मौके पर यादव संघर्ष मोर्चा के संयोजक, कार्यक्रम के संचालक व समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य इन्द्रपाल यादव ने कहा कि जब से प्रदेश में भाजपा की योगी सरकार बनी है। तब से आज तक यादव समाज पर अत्याचार व जुल्म ढाये जा रहे हैं। पूरे प्रदेश में यादव समाज सुरक्षित नहीं है। सरकार के जुल्म व अत्याचार से पूरे समाज में योगी सरकार के प्रति यादव समाज में भारी आक्रोश व गुस्सा है। मसौधा के पूर्व ब्लाक प्रमुख राम अचल यादव ने कहा कि पूरे प्रदेश में फर्जी एनकाउन्टर के नाम पर यादव समाज को टारगेट बनाकर हत्यायें की जा रही हैं व उनका शोषण व उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जौनपुर में प्यारेलाल यादव हत्या, लखनऊ के टेन्ट व्यवसायी राजकुमार यादव की हत्या, नोएडा के शिवकुमार यादव की हत्या, आजमगढ़ में लाल बहादुर यादव की हत्या, भदोही के राजेश यादव की हत्या व चन्दौली के विजय यादव व नोएडा के जितेन्द्र यादव के ऊपर पुलिस ने गोली चलाकर बुरी तरीके से घायल कर दिया जो अभी तक अस्पताल में मौत व जिन्दगी से जूझ रहे हैं। धरने का सम्बोधन करते हुए यादव महासभा के प्रदेश महासचिव रामशंकर यादव ने कहा कि यादव समाज के लोग अपनी लगनशीलता, कर्मठता, ईमानदारी एवं श्रमशीलता से देश को समृद्ध बनाने के लिये सर्वाधिक योगदान करते हैं। लेकिन आज प्रदेश की जुल्मी सरकार यादव समाज पर जुल्म कर उनका शोषण व उत्पीड़न कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में यादव समाज के ऊपर अगर अब जुल्म हुआ तो यादव समाज प्रदेश सरकार ईंट से ईंट बजा देगा। धरने को सम्बोधित करते हुए पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी राम लखन यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार यादव समाज के साथ भेदभाव कर रही है और दोयम दर्जे का नागरिक मान रही है। यादव समाज के निर्दोष नौजवानों का फर्जी एवं गलत तरीके से फर्जी मुकदमों में फंसा कर जेल भेज रही है और एनकाउंटर कर रही है। उन्होंने कहा कि यादव समाज से जुड़े अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रताड़ित एवं अपमानित किया जा रहा है। धरने में बड़ी संख्या में यादव समाज के नौजवानों ने हिस्सा लिया। धरने में मौजूूद यादव समाज के लोगों ने लाल कपड़ा लपेटकर  प्रदेश सरकार के मुखिया योगी सरकार को खुली चुनौती देते हुए कहा कि अब किसी कीमत पर यादव समाज जुल्म बर्दाश्त नहीं करेगा और यदि प्रदेश में जुल्म व अत्याचार बन्द नहीं हुआ तो यादव समाज के लोग हजारों की संख्या में प्रदेश की राजधानी लखनऊ कूच करेंगे। धरना की अध्यक्षता छोटेलाल यादव ने की। इस मौके पर राज्यपाल को सम्बोधित एक ज्ञापन सिटी मजिस्टेªट के माध्यम से सौंपा गया। इस मौके पर संजय यादव, बंशीलाल यादव, रामानन्द फौजी, शिवराम सिंह यादव प्रधानाचार्य, जुग्गीलाल यादव चेयरमैन, डाॅ0 राम कलप यादव, जिला पंचायत सदस्यगण राम केवल यादव, अखिलेश यादव, साहबलाल यादव, प्रेमनारायण यादव, शंकरजीत यादव, खामा यादव, मुकेश यादव प्रधान, अनिल यादव, सुरेन्द्र यादव, रक्षाराम यादव, शमशेर यादव, पवन यादव प्रधान मंजनाई, पप्पू यादव प्रधान अमानीगंज, रामचेत यादव मंगलसी, राम रंग यादव, शिवकुमार यादव, कुलदीप यादव, रामजी यादव, बृजेश यादव, अभय यादव, अर्जुन यादव, जीतू यादव, शनी यादव, केतार यादव, राज कमल यादव, दीपक यादव, आकाश यादव, योगी यादव, संदीप यादव, छविराज यादव, प्रशान्त यादव छोटू, अरविन्द यादव देशराज, प्रदीप यादव, अजय यादव, दरोगा यादव, मनोज यादव प्रधान, मनोज यादव मास्टर, शिव कुमार यादव, अरूण यादव, सुरेन्द्र यादव, हरेन्द्र यादव, राम जी यादव, लोहा यादव, राम अचल यादव आलू नेता, राजेन्द्र यादव, पवन यादव, राजनाथ यादव, संतोष यादव मास्टर, सूर्य प्रकाश यादव, गयादीन यादव, प्रहलाद यादव, राम कुमार यादव, भवानीभीख यादव, सियाराम यादव, भानू यादव, पारसनाथ यादव बीडीसी, दीनानाथ यादव, सूबेदार यादव, राजेश यादव, नरेन्द्र यादव प्रधान आदि हजारों की संख्या में यादव समाज के लोग मौजूद रहे।